21-Feb-2024
HomeHUMAN INTERESTसावन के महीने में भारतीय धरोहर का संगम: मिलनसार दर्शन

सावन के महीने में भारतीय धरोहर का संगम: मिलनसार दर्शन

सावन के पावन महीने में, हम सभी धर्मों के संगम का अनुभव करते हैं जो हमारे राष्ट्रीय एकता और समरसता का प्रतीक है।

‘एक दो तीन चार, भोले तेरी जय जयकार।’ हर साल जुलाई-अगस्त के दौरान मेरे इलाके में सड़कों पर खेलने वाले छोटे मुस्लिम बच्चों की जुबान पर यह नारा होता था। हमारा मोहल्ला हिंदू-मुस्लिम मिश्रित आबादी वाला है जहां सभी एक-दूसरे के साथ दिल की खोलते हैं। सावन के महीने में मुस्लिम बच्चे खेलते समय हिंदू धर्मिक नारे अवश्य लगाते, बिना किसी बड़े व्यक्ति के भौंहें सिकोड़े। यह संगम दर्शन का सौभाग्य मुझे मिलता है क्योंकि मेरा घर कांवड़ियों के यात्रा मार्ग से गुजरता है।

सावन के महीने में हमारी सड़कें अवरुद्ध हो जाती हैं और स्कूल भी कई दिन बंद रहते हैं। इस दौरान परिवार एक साथ समय बिताते हैं और बच्चे धार्मिक नारे लगाते हुए सड़कों पर चल रहे भक्तों की भीड़ को देखते रहते हैं। सावन के पावन महीने में, हम सभी धर्मों के संगम का अनुभव करते हैं जो हमारे राष्ट्रीय एकता और समरसता का प्रतीक है।

इस खबर को पूरा पढ़ने के लिए hindi.awazthevoice.in पर जाएं।

ये भी पढ़ें: आयुषी सिंह UP PCS पास कर DSP बनीं, कैसे की थी पढ़ाई?

आप हमें FacebookInstagramTwitter पर फ़ॉलो कर सकते हैं और हमारा YouTube चैनल भी सबस्क्राइब कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments